संदीप भंसाली - डिजिटल आज़ादी

Digital Marketing Freelancer कैसे बने | 5 Steps To Become A Successful Freelancer In India

Digital Marketing Freelancer कैसे बने - 5 Steps To Become A Successful Freelancer In India

क्या आपको आज भी लगता है कि बिना घर से बाहर निकले पैसा कमाना संभव नहीं?

क्या आप मानते हैं कि अच्छा पैसा कमाने के लिए घर से बाहर निकलने के अलावा कोई दूसरा Option नहीं है?

वैसे, आज से कुछ समय पहले तक हम इस बात को सही ठहरा सकते थे क्योंकि उस समय तक ऐसा मानना था कि घर पर रहकर कोई काम-धंधा करना मुमकिन नहीं है। 

लेकिन, आज की परिस्थितियों में काफी परिवर्तन आ गया है, जिसका मुख्य कारण है Internet की पहुँच !

Internet के Use से आज लोग घर बैठकर ही महीना लाखों रूपये कमा रहे हैं और केवल एक नहीं बल्कि अनेक Companies (“Clients” In Freelancer Terms) के लिए काम कर रहे हैं। 

ऐसे लोगों को ही Freelancers कहा जाता है जिन्हें अपनी मर्ज़ी के मुताबिक काम करने की आज़ादी होती है और अपने मन अनुसार Hourly, Monthly, Fixed Price, Contract Basis पर काम करते हैं। 

कोई Boss नहीं, Location Independent, Timely Payment, खुद Pricing तय करना, Flexible Schedule इत्यादि कई Factors हैं जो Freelancing Industry को एक Lucrative (आकर्षक) करियर Option का दर्ज़ा देते हैं। 

इन्ही सब कारणों की वजह से आज दुनिया की 320 करोड़ Workforce Population में से 110 करोड़ तो Freelancers ही हैं। 

यही नहीं, कुछ Reports ने तो यह तक कह दिया है कि America में वर्ष 2027 तक 50% लोग Freelancing कर रहे होंगे।

इस Sector के इतनी Growth होने के बावजूद आज भी इसकी सही जानकारी लोगों तक नहीं पहुँच पाई है। 

आज भी कई लोग जानना चाहते हैं कि एक Successful Freelancer कैसे बनें और इसमें करियर (Career In Freelancing) कैसे बनाए। 

Interested लोग आज भी सर्च करते हैं कि फ्रीलांसर किसे कहते हैं या Digital Marketing Freelancer कैसे बना जाता है। 

Don’t Worry, आज 15th August के दिन मैं आपको इन्ही सब सवालों के जवाब देने के लिए एक Detailed Blog लेकर आया हूँ ताकि इसे पढ़कर आप Freelancing की दुनिया में कदम रख सकें और समय और पैसों की आज़ादी पा सके। 

आइये सबसे पहले जान लेते हैं कि Freelancing Industry में Gig Economy क्या होता है और क्यों आजकल इस पर चर्चा हो रही है। 

Also Read : What Is Creator Economy And How To Become A Part Of It

Table of Contents

What Is Gig Economy

What Is Gig Economy

Gig Economy एक Free Market System होता है जिसमे किसी भी व्यक्ति को Permanently Employ नहीं किया जाता। 

साधारण शब्दों में समझें तो इसके अंदर Service Providers को उनकी Skill या काम के आधार पर कोई कार्य सौंपा जाता है जो Hourly, Monthly, या Yearly Contract Basis पर होता है।

इसमें अक्सर Full Time Employee के बजाय Part Time Contractors या Freelancers को Hire किया जाता है। 

For E.g. अगर आप एक Facebook Ads Specialist हैं और जानते हैं कि कैसे Convertible Ads चलाकर Businesses के Objectives पूरे किये जाते हैं, तो आप अपनी Freelance Service Provide कर सकते हैं। 

इसी तरह एक Uber या Ola Cab Driver जो अपने Free-Time में Cab चलाता है, Gig Economy का हिस्सा है। 

आप जो भी Services Provide करते हैं उन्हें Gigs के नाम से जाना जाता है, इसलिए इस पूरी Economy को Gig Economy कहा जाता है। 

पिछले कई सालों से Gig Economy लगातार Grow करती जा रही है, हर कोई इसका हिस्सा बनना चाहता है और Independent Life जीना चाहता है। 

पर ऐसा क्यों हैं? क्यों आज Gig Economy Popularity Gain करती जा रही है और क्यों गूगल पर फ्रीलांसर क्या है, फ्रीलांसर इन हिंदी, Freelancer कैसे बने जैसे Searches बढ़ने लगे हैं?

आइये कुछ तथ्यों के द्वारा इसका विश्लेषण करते हैं।  

Why Is Gig Economy Gaining Popularity

Why Is Gig Economy Gaining Popularity

Deloitte की Global Human Capital Trends Report के अनुसार 33% Companies Gig Workers (Freelancers, Part Time Contractors) के साथ काम कर रही हैं। 

वहीं McKinsey की Report कहती है कि हर 6 में से 1 Traditional Employee, Independent Worker बनना चाहता है और एक साथ Multiple Companies के साथ काम करना चाहता है। 

इन आंकड़ों के अलावा Brodmin.com की एक Study पर भी नज़र दाल लेते हैं जिसके मुताबिक,

  • Global Gig Economy के $204 Billion (In 2018) से बढ़कर $ 455 Billion (In 2023) होने की उम्मीद है जो 17.4 % CAGR की Growth दर्शाता है। 
  • अगर केवल USA की बात करें तो 44% Gig Workers के लिए Freelancing ही उनका Primary Income Source है। 
  • Freelancing Industry में Web & Graphic Design Service Provide करने वाले Freelancers की संख्या सबसे अधिक है। 
  • Gig Economy का सबसे Positive Impact Western Countries में देखने को मिला है। United Kingdom में वर्ष 2016 से 2019 के बीच Gig Workforce दोगुना हो गई है। वहीं, USA में Gig Workers की संख्या 2027 तक 86 Million पहुँच जाएगी। 

Gig Economy के बढ़ने के कुछ Important Reasons को समझा जाए तो उसमे शामिल है – 

Growth Of Startup Culture : एक Startup Idea सोचने से लेकर उसे Execute करने में कई चीज़ों का सामना करना पड़ता है। 

ऐसा Observe किया गया है कि अपने Growing Phase में Startups अक्सर ऐसे Freelancers को सर्च करते हैं जो Professional हों और उनकी Growth में मदद कर सकें। 

आज डिजिटल मार्केटिंग की मदद से अपने Target Audience तक पहुंचना काफी आसान हो गया है, इसलिए Startups Professional Digital Marketing Freelancers को सर्च करते हैं और उन्हें Contract Base पर अपने साथ रख लेते हैं। 

Work-Life Balance : आज Work Life बैलेंस हर किसी व्यक्ति को चाहिए। Permanent Employment में कई बार ऐसा हो जाता है कि आपको न चाहते हुए भी काम करना पड़ता है। 

लेकिन, Freelancers अपने काम और अपने Employers को अपनी सुविधानुसार Chose कर सकता है और एक Proper Work Life बैलेंस Maintain करके चल सकता है। 

High Earning Potential : Upwork की Study के मुताबिक, 44% Freelancers का कहना है कि वो अपनी Regular Job के मुकाबले Freelancing में अच्छा पैसा कमा रहे हैं। 

High Earning Potential उस चुम्बक की तरह है जो एक Salaried Employee को अपनी ओर खींचता है और अपने में समा लेता है। 

अगर आप एक Professional Digital Marketing Freelancer हैं तो Upwork के मुताबिक आप उन Freelancers की Category में शामिल हो सकते हैं जो सालाना 70 लाख रूपये से ज़्यादा कमा रहे हैं। 

Low Capital Costs For Businesses : एक Permanent Employee को रखने के लिए Office Rent, Electricity, Water, Internet Bill, Insurance और न जाने कितने ही Bills Companies को देने पड़ते हैं। 

पर एक Freelancer जो अपने घर से ही Work कर रहा है और Effectively सब Assignments & Tasks Complete कर रहा है, उसे रखना कंपनी के लिए सस्ता पड़ता है या Capital Cost कम हो जाती है।  

Growth Of Freelancing Platforms : Freelance Platforms (Like Upwork, Fiverr, Freelancer, Guru, PeoplePerHour, Etc.) Brands & Freelancers के बीच Bridge का काम करते हैं जिनकी मदद से India में बैठा Freelancer भी American, Australian, Chinese Brands के साथ Collaborate कर सकता है और अपनी Income बढ़ा सकता है। 

ऐसे में ये Freelancers के लिए भी एक बढ़िया Opportunity है जहां वो सिर्फ एक Organization के साथ जुड़ने की बजाय Multiple Organizations के लिए काम कर सकते हैं वो भी Flexible Schedule के साथ। 


Gig Economy सिर्फ Freelancers ही नहीं बल्कि Businesses को भी फायदा पहुंचाती है और Flexibility Offer करती है जिससे Project का Successful Completion Rate भी बढ़ जाता है। 

Efficient होने के साथ-साथ ये Businesses को Less Costly भी पड़ती है, क्योंकि एक Employee रखने का खर्चा बहुत ज़्यादा होता है। 

Gig Economy की बात तो बहुत हो गई, आइये अब असली मुद्दे की बात करते हैं और जानते हैं कि Freelancer  कैसे बने और How To Get Started As A Freelancer.

लेकिन, मुझे लगता है कि Freelancer Kaise Bane को समझने से पहले हमें ये समझ लेना चाहिए कि फ्रीलांसर क्या होता है, Freelancing किसे कहते हैं और Freelance Digital Marketing से क्या तात्पर्य है। 

What Is Freelancing - Freelancing Kya Hota Hai?

What Is Freelancing - Freelancing Kya Hota Hai

Freelancing उस कार्य को कहा जाता है जिसके अंतर्गत एक व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति, An Organization या Multiple Organizations को एक साथ अपनी Services Provide करता है। 

Freelancing में काम करने का तरीका Regular Job से अलग होता है क्योंकि यहां पर Freelancer Permanently Employed नहीं होता, उसका कोई 9 – 5 वाला Job Routine नहीं होता और उसके पास जब चाहे तब काम करने की Flexibility होती है। 

Freelancing में अक्सर दो तरह के लोग काम करते हैं – एक वो जो Already अपनी 9 – 5 Job कर रहे होते हैं और Additional Income के लिए अपने Free Time में Freelancing Service Provide करते हैं और दूसरे वो जो Full Time Freelancer होते हैं और अपना पूरा समय इसी में देते हैं।

अब सवाल आता है कि Freelancing में किस तरह की Services Provide की जाती है?

तो अगर आप एक Regular Job करते हैं और आपके पास किसी भी तरह की Skill है, जैसे – Sales, किसी को Assist करना, Graphic Designing, Video Editing, Writing, Website Designing, App Designing, Song Writing, Data Science, Legal Consulting, Online Tutoring, Cooking, वगैरह-वगैरह, तो आप अपनी Freelancing Services दे सकते हैं और पैसा कमा सकते हैं। 

पर Freelancer कैसे बने या Digital Marketing Freelancer कैसे बने और कैसे Freelancing में करियर (Career In Freelancing) बनाएं, ये भी जानना ज़रूरी है। 

आइये इस विषय को Step By Step समझ लेते हैं। 

Relevant Post : How You Can Create Digital Marketing Implementation Plan For Businessmen

How To Become A Digital Marketing Freelancer

एक Digital Marketing Freelancer बनने के लिए आपको इन Steps को Follow करना होगा।

Step #1 Learn Digital Marketing

How To Become A Digital Marketing Freelancer - Step #1 Learn Digital Marketing

एक Freelance Digital Marketing Professional बनने के लिए सबसे ज़रूरी है Digital Marketing सीखना। 

Digital Marketing सीखने से आपको समझ आएगा कि आखिर Online Marketing कैसे की जाती है और एक Newly Established Company को Brand में कैसे Convert किया जाता है। 

इसे सीखकर आप Social Media, Website, Email, SMS, And Automation की Power को जान पाएंगे। 

डिजिटल मार्केटिंग सीखना चाहते हैं और तरह-तरह के Courses लेकर थक चुके हैं?

अब और नहीं ! 

मैं लेकर आया हूँ Digital Marketing Live Training For All The Students. 

इस Training में मैं आपको Live सिखाता हूँ कि कैसे अपनी एक Email Id बनाने से लेकर आप Graphics, Website, Video Editing, Email Marketing, Automation Systems इत्यादि बनाना सीखते हैं और लोगों को अपनी Services Provide कर सकते हैं। 

इस Live Training में जुड़ने के लिए आपको इस Free Digital Marketing Masterclass को Attend करना होगा जहां आपको डिजिटल मार्केटिंग फ्रीलांसर बनने का Complete Roadmap बताया जाएगा। 

Step #2 Choose Your Specializations

How To Become A Digital Marketing Freelancer Step #2 Choose Your Specializations

डिजिटल मार्केटिंग एक काफी बड़ा विषय है जिसके अलग-अलग Components हैं जो एक Online Business के Goals पूरे करने में मदद करते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग में Effective बनने के लिए आप इसके अलग-अलग Components में Mastery कर सकते हैं और Expertise Gain कर सकते हैं।

एक Freelance Digital Marketer होने के तौर पर आप एक या दो Skills पर फोकस कर सकते हैं जिनमे आपका Interest हो और उसकी Market Demand भी काफी ज़्यादा हो। इन Skills में आप Specialization हासिल कर सकते हैं।

For E.g. डिजिटल मार्केटिंग सीखने के दौरान आपका Interest Facebook Ads And Email Marketing में बढ़ने लगा, ऐसे में आप इन दोनों Skills की Practice करके इनमे Specialization हासिल कर सकते है। 

Step #3 Practice Your Specialized Skill

How To Become A Digital Marketing Freelancer - Step #3 Practice Your Specialized Skill

किसी भी फील्ड में Master बनने के लिए Practice Is The Key. अपनी Specialized Skills में Expertise हासिल करने के लिए आपको उसे Practically Implement करना होगा। 

ऐसा करने पर ही आपको समझ आएगा कि उस स्किल को Implement कैसे किया जाता है और Results कैसे लाये जाते हैं। 

Lets Say, आप Facebook Ads में Mastery करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको कोई Product या Service Select करना पड़ेगा और Market Research करके उसकी Target Audience Find करनी होगी। 

इसके बाद ही आप अपने Facebook Ad Campaigns Run करना सीख पाएंगे। 

शुरुआत में Practice करने के लिए कम बजट के साथ ही ये काम करें और Analytics पर नज़र रखें।  

Similarly, Email Marketing सीखने के लिए आपको Sequencing सीखना होगा और समझना होगा कि किस Action पर क्या Email आपकी Leads को जाने वाला है। इसमें Copywriting को Ignore करना न भूलें।

ये सभी चीज़े आपके Freelancer कैसे बने Doubt को खत्म करने और एक बेहतर Digital Marketing Freelancer In India बनाने में मदद करेंगी। 

Step #4 Create Your Profile On Freelance Platforms

How To Become A Digital Marketing Freelancer - Step #4 Create Your Profile On Freelance Platforms

Professional Freelancer Kaise Bane का अगला स्टेप है Profile Creation On Freelancing Platforms. 

जितने भी Popular Freelance Platforms हैं जैसे Upwork, Fiverr, Truelancer, Freelancer, And Similar Ones, उन पर अपनी Freelancing Profile Create करो और अपनी Specializations Mention करो। 

इन Platforms पर अपनी Profile को Optimize करना मत भूलना अन्यथा आप Proposals Send करते रह जाओगे लेकिन आपके पास Clients नहीं आएंगे। 

Profile Optimization के साथ-साथ आपको अपने Specialization से जुड़े अन्य Freelancers की Profile भी Checkout करनी है और समझना है कि उन्होंने कैसे अपना Profile Description लिखा है, कौन-कौन सी Skills Add की हुई हैं, Portfolio में क्या Mention किया हुआ है, आदि। 

अब आप अपने Proposals डालने शुरू कर सकते हैं, जब भी आपको लगे कि किसी Client ने कोई Job Requirement पोस्ट की है और उसे आपकी Specialization वाला Freelancer चाहिए तो आप उस Job पर अपना Proposal ड़ाल सकते हैं। 

इसी तरह आप Facebook Groups की मदद से भी Clients तक पहुँच सकते हैं और Experience Gain कर सकते हैं। 

Pro Tip : अक्सर ऐसा देखा गया है कि Freelance Platforms पर Clients New Freelancers को कम अवसर देते हैं। ऐसे में आप उनके द्वारा Defined Amount से कम में Bid कर सकते हैं और एक बेहतरीन Proposal लिखकर उनका ध्यान अपनी ओर खींच सकते हैं।

Step #5 Market Your Services

How To Become A Digital Marketing Freelancer - Step #5 Market Your Services

आप केवल Freelance Platforms या Facebook Groups तक ही सीमित नहीं रह सकते, आपको अपनी Personal Brand के बारे में भी सोचना चाहिए। 

इसके लिए आपको LinkedIn, Instagram, Facebook And YouTube जैसे Social Media Platforms पर Profile Create करके खुद को अपने Target Clients तक पहुँचाना होता है। 

Freelancers के लिए सबसे Important Social Media Platform है LinkedIn, जो केवल Professionals के लिए ही है और एक Freelancer से लेकर Salaried Employee & Companies के Top Managers तक इस प्लेटफार्म को Use करते हैं। 

आपको उन तक पहुँचने के लिए अपने Specialization से सम्बंधित High Quality Content Share करना होगा और लोगों को बताना होगा कि कैसे वो भी आपकी ही तरह एक Particular Skill में Expertise Gain कर सकते हैं।

इसके साथ ही आपको LinkeIn पर अपनी Networking बढ़ानी चाहिए और Same Specialization वाले Freelancers के साथ Connect होना चाहिए ताकि आप उनसे कुछ सीख सकें और कहीं पर भी परेशानी आने पर वो आपकी मदद कर सकें। 

Similary, Instagram, Facebook & YouTube पर आप Posts & Videos के माध्यम से अपने Content को Share कर सकते हैं जिससे आपके Target Client तक पहुँचने की उम्मीद बढ़ जाती है। 

Social Media के साथ-साथ अपनी एक Website भी Create कर लें जिस पर आप अपने Sample Projects, Clients Testimonials, Reviews, Award & Recognition Show कर सकें। 

अपने Specialization से Related Blogs लिखें और अपनी Website को Organically Grow करें। 

ये सभी Factors आपकी Authority & Credibility बनाने और आप पर Trust बनाने के लिए ज़रूरी है। इन सब Factors को Implement करने से आप एक Expert Digital Marketing Freelancer के तौर पर अपनी पहचान बना लेते हैं और कोई भी New Client किसी और की बजाय आप पर अधिक भरोसा करता है।

यहां तक आपको समझ आ गया होगा कि How To Become A Professional Freelancer (प्रोफेशनल Freelancer कैसे बने) Or Freelance Digital Marketing Professional.

Freelancing Meaning को इतनी गहराई से समझने के बाद अब सवाल आता है कि क्या Freelancing के कुछ नुकसान भी हैं?

आइये इसे जानने के लिए अपने अगले सेक्शन की और चलते हैं और Freelancing Pros & Cons पर चर्चा करते हैं। 

इसे भी पढ़ें : एक Effective Digital Marketer बनने के लिए ज़रूरी 7 Important Steps 

Pros Of Becoming A Freelance Digital Marketing Professional

Pros Of Becoming A Freelance Digital Marketing Professional
  1. Flexible Schedule : Digital Marketing Freelancers का Schedule Flexible रहता है जिसका मतलब है कि उनके पास समय का पूरा Control रहता है। 

वो खुद तय करते हैं कि उन्हें कब काम करना है और कौन-से Client के लिए काम करना है। कोई Freelancer Hourly Charge करता है, कोई Monthly करता है और और कोई Result के आधार पर Amount Charge करता है। 

2. Location Independent : Freelance Digital Marketers अक्सर Remotely अपना काम करते हैं। वो घर से भी काम कर सकते हैं या Travel के दौरान भी कार्य कर सकते हैं, ज़रूरत होती है तो बस एक Laptop & Internet की। 

3. Free To Choose Companies To Work With : अपने Freelancing Career की शुरुआत में एक फ्रीलांसर अक्सर सभी Projects & Clients के साथ काम करता है और Experience Gain करता है। 

लेकिन, जैसे-जैसे Authority Develop होती जाती है, आप Choosy हो जाते हैं और अपने मर्ज़ी से या सुविधानुसार Projects & Clients Choose करने लगते हो।

4. No Cap On Income Potential : Freelancing में आपका Income Potential Unlimited होता है जो Depend करता है कि आप Clients से अपनी Services के लिए कितना Amount Charge कर रहे हैं। 

यही नहीं, अगर आप अपनी Full Time Job के साथ Freelancing कर रहे हैं तो भी आप अपने Bank Balance को लगातार बढ़ा सकते हैं। 

Also Read : Full Time Job में रहते हुए डिजिटल मार्केटिंग की मदद से Extra Income कैसे Generate करें

5. Immediate Payments :  Freelancing की सबसे बड़ी खूबसूरती है कि यहां आपको Payment के लिए ज़्यादा दिन इंतज़ार नहीं करना पड़ता। 

हालाँकि ऐसे कई Freelancers हैं जो Monthly Contract Sign करते हैं और हर महीने की एक Specific Date को ही Payment लेते हैं। 

लेकिन, कई Freelancers Hourly या Projects Duration के अनुसार पैसे लेते हैं और Immediate Payment Prefer करते हैं। 

Cons Of Becoming A Freelance Digital Marketing Professional

Cons Of Becoming A Freelance Digital Marketing Professional

1. Constant Hustle : Clients Find करने और Existing Clients को Retain करने के लिए लगातार मेहनत करनी पड़ती है। 

As A Freelancer, आप नहीं चाहेंगे कि आपके पास Clients आना बंद हो जाए व काम रुक जाए, इसके लिए आपको खुद Proposals डालने पड़ेंगे, Cold Emailing करनी पड़ेगी और Self Branding पर Focus करना पड़ेगा। 

2. Responsibility Of Your Business : आप अपने Freelancing Business में खुद के बॉस होते हैं, ऐसे में आपको ही इसकी सारी Responsibility लेनी पड़ती है। 

Clients Management, Invoicing, Taxation इत्यादि का ध्यान आपको ही रखना पड़ता है। 

 

3. No Benefits : Regular Job में जो Perks या Benefits मिलते हैं वो Freelancing में नहीं मिल पाते। Insurance Cover, Paid Time Off, Sick/Casual/Earned Leaves, National Holidays से आपको वंचित रहना पड़ता है।

4. Fear Of Losing Clients : अपने Clients खोने का डर अक्सर कई Digital Marketing Freelancer के मन में बना रहता है। 

क्योंकि, एक बार आपसे कोई गलती हुई और वो Client आपके हाथ से निकल जाता है। 

Also Read : 10 Biggest Challenges In Digital Marketing Industry in 2022

Conclusion

Internet, Smartphone And लोगों की बढ़ती ज़रूरतों को देखते हुए आज देश में नए-नए Startups लांच हो रहे हैं, लोगों तक पहुँच रहे हैं और उनके Problems Solve कर रहे हैं। 

एक New Startup अपने Target Customers तक पहुँचने और अपनी Branding करने के लिए Digital Marketing पर बहुत अधिक Focus करते हैं। 

हालाँकि, TV Ads, Radio Ads, Newspaper Ads भी उनकी Strategies में शामिल होते हैं, लेकिन अपनी Digital Presence बढ़ाने और Target Customers के साथ Interact करने के लिए वो अक्सर डिजिटल मार्केटिंग का ही सहारा लेते हैं। 

ऐसे में अपने Permanent Employees के अलावा वो Digital Marketing Freelancers को भी Hire करते हैं और Skills के Basis पर उनकी Services लेते हैं। 

एक Professional Digital Marketing Freelancer अपनी Services का अच्छा Amount Charge करता है और Company के Goals पूरे करने में मदद करता है। 

आज के इस Blog में हमने Freelancing विषय पर ही जानकारी दी है और कई सवालों के जवाब देने की कोशिश की है जैसे – एक Successful Freelancer Kaise Bane, Freelancing Kya Hota है, Gig Economy क्या है और Freelance Digital Marketing Professional कैसे बना जाता है।      

Freelancing को आप अपनी Regular Job के साथ या Full Time भी कर सकते हैं और एक अच्छी-खासी Income Earn करना शुरू कर सकते हैं। 

Income Generation को और Deeply समझाने के लिए मैं एक Free Masterclass लेकर आ रहा हूँ, जहां मैं केवल Freelancers के लिए उनकी Income बढ़ाने और Multiple Sources Of Income Generate करने के कुछ Unknown Secrets & Techniques Share करूँगा। 

Masterclass में केवल Interested लोगों को ही आने की अनुमति है, इसलिए अगर आप Interested हैं तभी इसके लिए Register करें।    

Share this post with your friends

2 Responses

  1. It’s a nice topic . All points are explained very smoothly & powerfull way. One must learn some new things from your content. I am already your student.

Leave a Reply

Your email address will not be published.