संदीप भंसाली - डिजिटल आज़ादी

Digital Marketing For Jewellery Business – 6 Step Framework To Do Online Marketing For Your Jewellery Business

Digital Marketing For Jewellery Business - 6 Step Framework To Do Online Marketing For Your Jewellery Business

Jewellery Business की Digital Marketing कैसे करे ?

हमने सोचा था कि आज के इस Article की शुरुआत किसी Emotional Story से करे बिल्कुल वैसे -जैसे Jewellery Marketing के लिए Jewellers Emotional Advertisements बनाते हैं ना, Same To Same वैसे ही

पर हमारा काम Jewellery Sell करना नहीं बल्कि Jewellery की Online Marketing Kaise Kare यह बताना है, इसलिए अपनी खूबसूरत सी कहानी को पीछे छोड़कर हमने सोचा की सीधा Topic पर बात करते हैं!

हमारा Title पढ़कर आप यह तो समझ ही गए होंगे कि आज हम Digital Marketing For Jewellery Business के बारे में बात करेंगे।

हमसे कई बार कहा जाता है कि रोटी, कपड़ा और मकान हमारी बुनियादी ज़रूरतों में आते हैं पर क्या कभी आपने ऐसा कोई घर देखा है जहाँ Jewellery ना हो?

फिर चाहे वो काँच की चूड़ी हो, Fashionable Jewellery हो यह फिर सोने और चाँदी के ज़ेवर, Jewellery आज – कल हर घर में देखने मिलती है।

 लगभग 20% हिस्सा Online खरीदा जाता हैं,

यानि भारत में लगभग 20% लोग Online Jewellery खरीदते हैं और यह आंकड़ा 2026 तक बढ़कर 50% जाने की संभावना है। 

 यह कहना गलत नहीं होगा की 2026 तक आधा भारत Online Jewellery Shopping करेगा!

अब आप खुद अंदाज़ा लगा सकते हैं कि अगर आप सुनार हैं या Jewellery Business Owner हैं तो Jewellery Marketing, विशेषकर Online Jewellery Marketing कितनी ज़रूरी है।

आपमें से कई लोग जानते होंगे की India Second-Largest Jewellery Market है।

हमारे यहाँ Gold Jewellery को गहने के साथ – साथ Investment की तरह भी देखा जाता है और इसलिए ही Gold Jewellery Business आपने आप में ही बहुत बड़ा है।

 जब हम Overall Jewellery Market की बात करते हैं तो Gold, Diamond और Expensive Jewellery के अलावा भी Imitation Jewellery, Floral Jewellery और Silver Jewellery का अपना खुद का एक बहुत बड़ा Market है।

आज, हम इसी Market को समझेंगे और साथ ही Jewellery Business Marketing से जुड़े अलग अलग Aspects को भी समँझेंगे। 

इस Article में हम बिलकुल Basic से बात करेंगे, जैसे कैसे Jewellery Business Marketing को Plan Out किया जाए , Jewellery Marketing Ideas क्या क्या हैं, आप कैसे अपने Jewellery Business की Online Marketing कर सकते हैं, ऑनलाइन मार्केटिंग कैसे करे इत्यादि।

इसलिए अगर आप भी Basic से यह जानना चाहते हैं कि अपने Jewellery Business को Online कैसे ले जाया जा सकता हैं  या यह सीखना चाहते हैं कि Jewellery Ki Online Marketing Kaise Kare तो आज का यह Article आपके लिए है।

इस Article को अंत तक ज़रूर पढ़ें ताकि Online Jewellery Marketing से जुड़ा आपके सारे Doubts Clear हो जाएं।

किसी भी Business को Online ले जाने के लिए डिजिटल मार्केटिंग करना ज़रूरी है। 

2024 में डिजिटल मार्केटिंग का क्या Future है जानने के लिए यह ब्लॉग पढ़ें।

Table of Contents

Jewellery Business Ko Online Kaise Badhaye यह  समझने से पहले यह जान लेते हैं कि कितने Type की Jewellery होती है या Jewellery को कितने Forms और Types में Classify किया जा सकता है।

Jewellery Marketing को समझने ने से पहले Jewellery Types और Forms को समझना ज़रूरी है क्योंकि इन्ही के Basis पर यानि इसी आधार पर हम Jewellery Marketing Strategies Design करते हैं, तो आइए एक बार इसपर भी नज़र डाल लेते हैं। 

Jewellery Business - Types, Forms And Classification Of Jewellery

Jewellery Business - Types, Forms And Classification Of Jewellery

आज डिजिटल मार्केटिंग और Technology Advancement इतनी आगि बढ़ चुकी है कि Onine Business करना काफी आसान हो गया है। 

डिजिटल मार्केटिंग सीखकर आप अपना Business तो Online ले ही जाते हैं, आप अपने लिए नया Business Set Up कर सकते हैं, डिजिटल मार्केटिंग के Skills सीखकर अपनी Services Offer कर सकते हैं और Financial Freedom पा सकते हैं। 

आज के इस Blog में हम Digital Marketing For Jewellery Business पर बात कर रहे हैं। 

Jewellery Industry से जुडी कुछ Information मैंने यहाँ आपके साथ Share की है। 

Jewellery के कई Types और Forms होते हैं और इनके कई Segments भी होते हैं, इन सभी को  हम इस Section में समझेंगे।

जैसा की हमने आपको बताया कि Jewellery के कई अलग- अलग Segments होते हैं जैसे Gold Jewellery, Diamond Jewellery, Silver Jewellery, Platinum Jewellery, Imitation Jewellery इत्यादि!

Jewellery Business के Perspective से Jewellery कई तरह की होती है पर समझने के लिहाज़ से मोटा- माटी इससे दो Types में Classify किया जा सकता हैं, Imitation और Precious Metal Jewellery.

Imitation में आप उन सब तरह की Jewellery को Classify कर सकते है जो सोना, चांदी या किसी महँगी धातु से ना बनी हो जैसे A.D., Pearl या Plated Jewellery. 

हाँलाकि वो बात अलग है कि आज कल कुछ Imitation Jewellery के दाम, सोने और चांदी को टक्कर देते हैं और कई बार तो उनसे भी ज़्यादा होते हैं।

Imitation Jewellery Business में भी कई अलग- अलग Segments होते हैं जैसे – A.D., C.Z., Gold, Platinum और Silver Plated Jewellery, Floral Jewellery, Copper Jewellery, Etc.

ठीक उसी तरह जिस तरह Precious Metal Jewellery Gold  के कई Segments होते हैं जैसे Rose Gold और  White Gold. 

अगर Silver की बात की जाए तो 925 Silver, Gold Plated Silver Jewellery Etc.

 इसी तरह Diamond और Platinum Jewellery के भी कुछ Segments होते हैं। 

एक Generalisation लेकर अगर यह मान भी ले कि इन सारे  Jewellers या Jewellery Sellers की Target Audience Same हैं तो भी इन सबकी Jewellery Marketing Strategies एक दूसरे से अलग होगी इसलिए इनको अलग- अलग Heads में समझाना ज़रूरी था।  

यह जो Imitation Jewellery के अलग- अलग Segments हमने अभी आपको बताए, इनमें से कई तरह के Products और Product Designs को आप Types Of Jewellery की तरह भी देख सकते हैं। 

इसे एक Ring के उदाहरण से समझते हैं।

Rings हर Jewellery Segment में बनाई जाती हैं। 

फिर चाहे वो Gold Plated हो या A.D. हो या C.Z. हो या फिर कुछ और! 

तो यह तो हो गया Product.

इसके अलावा भी कई Products होते हैं जैसे Necklace, Nose Pin, Bangles, Chains, Anklets Etc. 

अभी हमने समझा की Ring एक Product है। अब इसी Product को कई अलग अलग Designs में भी बनाया जाता है, जैसे जड़ाऊ Rings या Diamond Cut, Princess Cut, Round Brilliant Cut ,Etc. 

इसी तरह Precious Metal Jewellery के भी कई  Products और Product Designs होते हैं बिलकुल Imitation Jewellery की तरह ही। 

अभी हमने Product समझा और Product Design भी अब थोड़ा Classification Of Product के बारे में समझते हैं।

वैसे तो एक Product को कई Basis पर Classify किया जा सकता है जैसे Raw Material Of The Product, Product Design, Product Size, Purpose Of The Product, Weight Of The Product Etc. 

List तो बहुत लंबी है, इसलिए सब पर तो बात नहीं करेंगे पर कुछ Important और General Classification Criteria पर बात करेंगे!

1. Raw Material यानि कच्चा माल – Raw Material के हिसाब से Classification यानि Product को उस Material या माल के हिसाब से Classify करना जो उसको बनाने में इस्तेमाल किया जाता हैं। 

जैसे Gold, Diamond, Copper, Silver Etc. 

वैसे इसमें भी एक Twist है, इन Raw Materials में भी थोड़ी Categories होती हैं जैसे Gold में Yellow Gold, White Gold और Rose Gold. 

अन्य Raw Materials के भी ऐसे कई Forms होते हैं, जो अपने आप में एक अलग Topic है इसलिए उसपर कभी और चर्चा करेंगे !

2. Product Design – इसपर हम इसी Article में पहले बात कर चुके हैं।

हमने Rings के उदाहरण में आपको बताया था कि हर Product के कई अलग- अलग Designs होते हैं  जिसके आधार पर उस Product को Classify किया जाता है।

जैसे Rings को Diamond Cut, Princess Cut, Round Brilliant Cut ,Double Layer, Double Stone Etc. में Classify किया जाता है, 

वैसे ही Necklaces को Round, Square, Name Printed, With Stone, Without Stone जैसी कई Categories में Classify किया जाता है।

और इस तरह बाकि Products को भी Classify किया जाता हैं। 

Jewellery Business - Types, Forms And Classification Of Jewellery - Purpose Of The Product

3. Purpose Of The Product – Jewellery को उसके उपयोग के आधार पर भी Classify किया जाता है।

आपको Ring का Example याद है जो हमने आपको Product Type और Design समझाते वक़्त दिया था?

यहाँ हम उसी Example से Purpose Of The Product का Concept समझते हैं।

Purpose Jewellery का मतलब ऐसी Jewellery जो किसी ना किसी उद्देश्य को पूरा करने के लिए बनाई गई हो, यानि उनको Design करने के पीछे कोई ना कोई Specific Reason हो। 

Rings के Case में Promise Bands, Mother Rings, Engagement Bands, Birthstone Rings जिसे रत्न अंगूठी भी कहते हैं इन सबको Purpose Driven Rings की Category में रखा जाता है।

यानि यह सारी Rings किसी ना किसी Particular Event पर ही दी जाती हैं, जैसे Engagement Rings सिर्फ़ सगाई के मौके के लिए ही ली जाती हैं, Promise Bands Commitments Fulfilment Promises के लिए दिए जाते हैं यानि किसी वादे को पूरा करने या किसी से कोई वादा करते Time इन Rings को दिया जाता है ताकि यह उस खूबसूरत से पल की एक प्यारी सी निशानी बन सके। 

Jewellery Marketing में Purpose Of Jewellery एक Important Factor है और यह Purpose से हम जान सकते हैं कि Audience को Emotions से Grab करना है या फिर Trend से!

4. Weight And Colour Of The Product – Weight और Colour के Basis पर भी Jewellery को Classify किया जाता है।

Weight Classification Precious Metal Jewellery में ज़्यादा Common है।

आखिर हम सब वज़न के आधार पर सोना- चांदी खरीदते हैं।

वहीं रंग के बेसिस पर Classification Imitation Jewellery में ज़्यादा Common हैm 

यह आम तौर पर सस्ती होती है और इसलिए लोग इन्हें अपनी Dresses के Colour के According ख़रीदते हैं। 

यह Online Jewellery Business में काफ़ी Common है।

5. Demographics – Jewellery Marketing Campaigns Design करते वक़्त Demographics एक Important Factor होता है।

Demographics को आप आसान भाषा में कोई स्थान या शहर समझ सकते हैं।

Jewellery की Requirements जगहों और शहरों के हिसाब से Differ करती है।

 जहाँ तक Jewellery Business Online की बात है, तो Online Businesses एक साथ Multiple Type Of Audience को Cater कर सकते है।

वहीं अगर Local Jewellers की बात की जाए तो उनके लिए यह ज़रूरी है कि वो Local Consumer की Choice और Preferences के हिसाब से ज़्यादा से ज़्यादा Stock अपने पास रखे!

जैसे अगर आप Mumbai कि Jewellery Preferences की बात करे तो वहां आपको अधिकतर Lightweight Jewellery देखने को मिलती है, वहीं अगर राजस्थान के किसी Local Traditional Jewellery Store की बात की जाए तो वहां आपको ज़्यादा Heavy और जड़ाऊ Jewellery देखने को मिलेंगी! 

यह Area Wise एक General Classification है आपको समझाने के लिए!

आपको Mumbai में भी Heavy Jewellery मिल सकती है और Rajasthan में भी Light Weight Jewellery मिल सकती है। 

बस बात इतनी है कि हर जगह की और हर व्यक्ति की अपने Utilization अनुसार Jewellery को लेकर एक Taste होता और कुछ Choices होते हैं।

और इनको समझकर , अपनी Audience को बेहतर जानकर जब Marketing की रणनीति बनाई जाए तो बेहतर Results पाने की संभावना बढ़ जाती है।

इन Classifications को समझना ज़रूरी है क्योंकि इन्हीं के Basis पर Jewellery Marketing Strategies भी Design की जाती हैं।

इन सब को समझने के बाद में अब अपने मूल विषय पर यानि Jewellery Ki Online Marketing Kaise Kare , उसपर लौटते हैं!

Jewellery Business की Online Marketing करने के लिए सबसे ज़रूरी है डिजिटल मार्केटिंग सीखना और अपने Jewellery Business के लिए आपके Jewellery Business का Ecosystem Create करना। 

Digital Ecosystem के बारे में जानने के लिए यह Blog पढ़ें। 

Digital Marketing क्या है, क्यों ज़रूरी है आपके Jewellery Business के Digital Growth के लिए, क्या Strategies इसमें शामिल हैं, जानने के लिए हमारा Digital मार्केटिंग Guide ज़रूर पढ़ें. 

Digital Marketing For Jewellery Business - Jewellery Business के लिए Online Marketing Kaise Kare ?

Jewellery Marketing एक पूरी Process है, जो Market Research, Online Jewellery Business Ideas, Product Category शुरू होकर Measurement Of Result पर जाकर खत्म होती है। 

इस Section में हम इसी Process को समझेंगे। 

Digital Marketing For Jewellery Business - Jewellery Business के लिए Online Marketing Kaise Kare ?

1. Search For Online Jewellery Business Ideas Or Identify And Define Product Category

यह Jewellery Marketing का पहला Step है।

किसी भी Business Marketing के लिए सबसे ज़रूरी है कि Product Idea या Product Category Clearly Defined हो।

आपने सुना होगा, क्या करना है उससे कहीं ज़्यादा ज़रूरी यह जानना है कि क्या नहीं करना है। 

Marketing में भी कुछ ऐसा ही इसलिए यह जानना बहुत ज़रूरी है कि किस Product या Product Category को Market करना है और कैसे। 

Statista की माने 2021 में सिर्फ़ भारत में ही Silver की Demand 600 Metric Tone पार कर गई थी। 

Silver के बारे में एक अच्छी बात यह है कि यह Investment तो है पर Gold की तरह One Time Investment नहीं है।

इसके Cheap Prices के कारण आप कई सारी अलग- अलग Designs में Daily Wear Jewellery खरीद सकते हैं!

Silver का Export Business भी कुछ कम नहीं है।

Data की मानें तो लगभग 145 देश और कई Territories हैं जहाँ India से Silver Jewellery Export जाती हैं। 

Silver Institute ने बताया है कि Silver की Demand में भी एक भारी बढ़ौतरी देखने को मिली है और 2022 में Global Silver Demand 340 Million Kg तक बढ़ सकती है जो की अपने आप में एक Record है। 

यह ज़रूरी नहीं की आप Silver Jewellery को चुने  अपने Jewellery Business के लिए।

ज़रूरी यह है कि आप आपने Product और उसकी Category को पूरी तरह से समझे !

अगर हम Silver का Example लें तो Silver Jewellery में कई Categories हैं जैसे Rings, Earrings , Bands, Bracelets Etc. 

आपके लिए यह Identify करना ज़रूरी है कि आप किस Product Category से Deal करना चाहते हैं?

Minimum और Maximum कितने Weight की Jewellery में आप Deal करना चाहते हैं और आपके Product की Design किस प्रकार की होगी।

ऐसे ही कई सवाल होते हैं जिनके जवाब आपको Clarity के साथ पता होने चाहिए तभी आप समझ पाएंगे कि ऑनलाइन मार्केटिंग कैसे करे!

अगर आप Existing Jewellery Business Owner हैं तो आपको उस Product और Product Category को Identify करना होगा जिसके लिए आप Marketing Campaigns Design करना चाहते हैं। 

आप चाहें तो अपने Business का एक Poster बनाकर उसे Ad की तरह Run कर सकते हैं, वो कुछ हद तक Awareness तो Create करेगा पर शायद आपको Proper ROI या Conversion ना दे पाए!

Target Audience तक पहुंचने के लिए Targeted Marketing Campaigns Jewellery Marketing Strategies का एक ज़रूरी हिस्सा हैं। 

इसी Strategy का Base है Product Category को Define करना।

Digital Marketing For Jewellery Business - Jewellery Business के लिए Online Marketing Kaise Kare ? - Marketing Objective Define Karein

2. Defining The Objective Of Marketing Campaign

हम में से कई लोगों को ऐसा लगता है कि Marketing का इकलौता Objective है Sales Increase करना, पर यह पूरी तरह से सही नहीं है!

हाँ, यह कहा जा सकता है कि Sales बढ़ाना Marketing का एक Important Objective है, लेकिन इसके अलावा भी Marketing के कई Objectives होते हैं जैसे- Brand Awareness करना, किसी New Product Launch के बारे में Consumers को बताना, Customer Engagement बढ़ाना , Traffic Diversion करना Etc. 

इन्हीं Objectives के हिसाब से Jewellery Business की Marketing Strategies भी Differ करती हैं। 

इसे एक उदाहरण से समझते हैं।

मान लीजिए आपका एक Jewellery Store है या Jewellery Business है और Recently आपने एक नया Collection Launch किया है, और आपको उसके लिए Marketing करनी है।

पर साथ ही साथ आप यह भी चाहते हैं कि जो Previous Collection का Stock है उसे भी Discounted Price पर Sell करना हैं। 

ऐसे में आपके Online Jewellery Marketing Campaign के दो Objectives निकलते हैं। 

वैसे तो मार्केटिंग कई तरीकों से की जा सकती है पर समझने के लिहाज़ से हम मान लेते हैं कि यह तीन तरीकों से की जा सकती है – 

पहला- Customer को आपकी Website पर Direct किया जाए, जहाँ पर वो आपके दोनों Collections देख सकता है। 

पर इसमें Problem यह है कि काफी सारे Customers Directly Website Explore करना Prefer नहीं करते। 

वो पहले किसी Specific Product को देखते हैं, फिर उसका Price देखते हैं और अगर यह दोनों चीज़े उन्हें सही लगती हैं तभी वो बाकि Designs या Collection को Explore करते हैं। 

अगर आपके Target Consumer का Behaviour भी ऐसा ही है तो यह Jewellery Marketing Strategy आपके लिए काम नहीं करेगी उल्टा इससे आपकी Website का Bounce Back Rate बढ़ सकता है। 

दूसरा तरीका यह है कि Consumers को Directly New Collection के Product Page पर Divert कर दिया जाए और वहाँ Pop- Up की तरह Sale का Link Insert कर दिया जाए ताकि Consumers New Collection Navigate करते- करते Sale देखकर Old Collection को भी Visit करें! 

तीसरा तरीका है कि दोनों Objectives को Fulfil करने के लिए अलग अलग Jewellery Marketing Campaigns Design किए जाएं।  

ऐसे में Old Collection की Sale पर अलग से Focus किया जा सकता है और New Collection के बारे में अलग से Awareness Create की जा सकती है।  

In Short आपके Jewellery Business की Online Marketing Strategy आपकेobjective या Goal पर निर्भर करती है। 

अगर Precisely कहा जाए तो किसी भी Business के Primary Objective और Secondary Objectives  के हिसाब से ही उनकी Marketing Strategies और Campaigns Design किए जाते हैं। 

Digital Marketing For Jewellery Business - Jewellery Business के लिए Online Marketing Kaise Kare ? - Target Audience Define Kare

3. Target Audience Define करें

अगर आपने हमारे Previous Articles पढ़े होंगे तो आप जानते होंगे की Target Audience किसे कहा जाता है। 

जो नहीं जानते उनके लिए हम बता देते हैं कि Target Audience, Consumers के उस Section को कहा जाता है जिन्हें आप Cater करना चाहते हैं। 

साधारण भाषा में कहा जाए तो आपकी Target Audience Consumers का वो Section है जिनके पास ऐसी Problem है जिसका Solution आपका Product या फिर कोई Service है। 

यूँ कहा जाये, तो ऐसा Group Of Audience जो आपसे कोई Transaction करे, कोई Purchasing करे, कोई सामान आपसे खरीदे। 

यह कोई Particular Age Group हो सकते है, कोई Particular Gender हो सकता है या फिर कुछ Specific Type के Businesses भी हो सकते हैं। 

आपको ऐसा लग रहा होगा कि Jewellery Business की Target Audiences में Businesses कैसे?

Well कई Business Houses Gold Coupons खरीदते हैं आपने Employees के लिए, वहीं कई Businesses अपने Employees को Silver Cutleries या Bracelets या कोई और Form Of Jewellery या Artefacts भी भेंट करते हैं। 

इनके साथ Deal करने का एक बड़ा फ़ायदा यह है कि यह Bulk में Jewellery Purchase करते हैं। 

अगर आपके पास भी Corporate Gifting के हिसाब से Jewellery है तो Businesses भी आपकी Target Audience या Consumers हो सकते हैं। 

आपके Target Audience के हिसाब से ही आपकी Marketing Campaigns को Design किया जाता है और उसी के आधार पर Forms Of Marketing भी Decide किए जाते हैं। 

Jewellery Ki Online Marketing Kaise Kare यह बहुत हद तक Target Audience पर ही Depend करता हैं। 

Digital Marketing For Jewellery Business - Jewellery Business के लिए Online Marketing Kaise Kare ? - Online Jewellery Business Ideas

4. Deciding Form Of Marketing

Target Audience को Define करने के बाद अगला Step है Form Of Marketing को Decide करना। 

Marketing के कई Forms होते हैं; जैसे Content Marketing, Influencer Marketing, Paid Ads, Collaboration, T.V. Advertisements Etc. 

आपको किस Marketing Form का चुनाव करना है यह काफी हद तक आपके Business के Nature , Size और Target Audience पर निर्भर करता है। 

अगर आप Funky Jewellery Business में हैं और Youth आपकी Target Audience है तो Instagram Marketing एक अच्छा विकल्प हो सकता है। 

वहीं अगर Celebrity Jewellery Designing आपका Core Business है तो आप ऐसे Influencers के साथ Collab कर सकते हैं जो Make Up Industry से जुड़े हों या जो Celebrity Looks Recreate करते हों। 

अगर आपकी Jewellery Store काफ़ी बड़ी है तो आप अपने T.V. Operator की मदद से Locally Ad Run करवा सकते हैं और साथ ही Local Newspaper में भी Advertisement दे सकते हैं। 

आप अपने Preferences और Choices के हिसाब से अपने Offline Jewellery Business या Jewellery Business Online के लिए Suitable Form Of Marketing चुन सकते हैं। 

Digital Marketing For Jewellery Business में Influencer Marketing काफी कारगर साबित होती है। 

Influencer Marketing क्या है , और कैसे की जाती है, जानने के लिए यह Blog पढ़ें। 

५. Check The Budget - Budgeting, Marketing का ज़रूरी हिस्सा है

करवाने को तो एक Local Small Jewellery Owner भी T.V. Advertisement करवा सकता है यानि T.V. पर Ad Run करवा सकता है, पर सवाल यह है कि क्या वो इसे Afford कर पाएगा?

अगर इसे One- Time Investment की तरह भी सोचे और यह मान भी लें की इससे होने वाले Profit से Advertisement Cost Cover हो जाएगी, तो भी Profit बढ़ाने के लिए जिन Funds की Requirement होगी वो कैसे Arrange होंगे?

हम सब जानते हैं कि Profit बढ़ाने के लिए Sale का बढ़ना ज़रूरी होता है और उसके लिए Stock बढ़ाना होगा, साथ ही Working Capital की भी Requirement होती है। 

ऐसे में अगर सारा Budget Advertisement में लगा दिया गया तो Business के बाकि ख़र्चे कैसे निकलेंगे ?

आपको Economics में नहीं उलझना चाहते थे बस इतना समझाना चाहते थे कि Budget Jewellery Marketing Strategies को Directly Effect करता हैं। 

Digital Marketing For Jewellery Business - Jewellery Business के लिए Online Marketing Kaise Kare ? - Online Jewellery Business Ideas - Campaign Analysis

6. Running The Campaign And Measuring Results

एक बार आपने सब Decide कर लिया उसके बाद आता है Action Time यानि Jewellery Marketing का Time। 

यह Time है अपने Ad Campaigns को Run करने का और साथ ही उन्हें Review भी करने का। 

Review आपकी मदद करता है Final Outcome से पहले एक अंदाज़ा लगाने में कि आपका Campaign कितना Successful हो सकता है या फिर आपको एक Reality Check देने में कि आपका Campaign Successful होगा भी या नहीं !

आपको अपने End Result यानि ROI से पता चलेगा कि आपके Campaign ने कैसे Perform किया। 

एक बात ध्यान रखिएगा कई बार हम खुद Unrealistic Targets बना लेते हैं और फिर सोचते हैं कि Marketing Campaign Fail हुआ या Desired Results नहीं मिले। 

जबकी सच यह होता है कि असल में Compare करने के लिए रखा गया लक्ष्य अपने आप में Unreasonable होता है। 

Jewellery Business में आम तौर पर 400% का ROAS यानि Return On Ad Spend काफी अच्छा माना जाता है। 

पर इसका मतलब यह नहीं की हर Business Owner का ROAS यहीं हो। 

जो नए Brands Market में Launch होते हैं उन्हें वक़्त लगता है अपनी Brand Identity Create करने में और कई बार तो शुरू- शुरू में ROAS Negative में भी चला जाता है। 

और कई Established Brands का ROAS 1500% तक भी होता है। 

इसलिए यह ज़रूरी है कि आप Reasonable Standards बनाए और अपने Campaigns को Monitor करके उनमें ज़रूरी Changes करें।

Marketing Campaigns , Budgeting और ROAS की बात जहाँ आती है, वहां बात Search Engine Marketing और Social Media Marketing की ज़रूर आती है। 

Search Engine Marketing क्या है जानने के लिए यह Blog पढ़ें। 

Social Media Marketing को समझने और कैसे इसे Jewellery Business में कैसे Implement करें जानने के लिए यह Blog पढ़ें।  

Conclusion - Digital Marketing For Jewellery Business

इस समय हर कोई ऑनलाइन है, डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर अपना समय बिता रहा है। 

ऐसे में आपके Traditional Jewellery Business को भी Digital Platforms पर ले जाना अनिवार्य हो जाता है। 

आज के इस Blog में हमने देखा अगर आपके पास कोई Business नहीं है, तो भी आप Online Jewellery Business Ideas पर सोच विचार करके अपना Online Business शुरू कर सकते हैं। 

साथ ही अगर आपका Existing Jewellery Business है तो उसकी Marketing कैसे आप Online कर सकते हैं। 

अपने Jewellery Business की Online Marketing करने के लिए आपको सबसे पहले अपने Business की Online Presence बनानी होगी, अपने Business के लिए Website बनानी होगी, Social Media Platforms पर अपने Business की Profiles बनानी होंगी। 

इसके अलावा YouTube पर अपना Channel Create करने पश्चात वहां पर अपने Business Related जानकारी Share करें। 

दूसरे शब्दों में कहें, तो ये सभी रणनीतियां Digital Marketing का हिस्सा हैं। 

और अपने Traditional Business को डिजिटल ले जाने के लिए आपको डिजिटल मार्केटिंग सीखना ही होगा। 

मैं डिजिटल मार्केटिंग सिखाता हूँ हिंदी में और समझाता हूँ की कैसे आप डिजिटल मार्केटिंग सीखकर अपना Business खुद Online ले जा सकते हैं, खुद Facebook Ads Run कर सकते हैं और अपना Business बढ़ा सकते हैं। 

मैं बहुत जल्द एक Special Free Masterclass कर रहा हूँ, आपके लिए ख़ास जहाँ मैं आपको Digital Marketing से अवगत कराऊंगा और बताऊंगा की कैसे आप अपने लिए Leads Generate कर सकते हैं, सही Customer को Target कर सकते हैं, इत्यादि। 

मिलता हूँ आपसे Webinar में।

Share this post with your friends

6 Responses

    1. Thank You So Much,
      Keep Learning, Keep Implementing!
      Subscribe To My Blog In Order To Keep Yourself Updated About Digital Marketing

    1. Thank You So Much,
      Keep Learning, Keep Implementing!
      Subscribe to my blog in order to keep yourself updated about digital marketing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

निशुल्क हिंदी Webinar के लिए रेजिस्टर कीजिए

Register For Free Webinar

10 of 10 Number(s) left
जल्दी कीजिये, Limited Seats
We will not spam, rent, or sell your information…