संदीप भंसाली - डिजिटल आज़ादी

Learn Content Creation In Hindi : A Better Career Opportunity

Learn Content Creation In Hindi A Better Career Opportunity

3 सबसे Important Skills जो हर व्यक्ति को सीखने चाहिए वो हैं:

  1. Content Creation
  2. Traffic Generation और
  3. Sales Conversion.

आज के दौर में Digital Marketing सबसे ज़्यादा Grow करने वाले Sectors में से एक है।
लेकिन क्या आप जानते है कि Digital Marketing के इस Success के पीछे का कारण क्या है?

इसका ज़वाब है “Digital Content Creation”. जिसे हम आम भाषा में Content Creation कहते हैं। 

Digital Marketing की सबसे Basic या यूं कहें कि Fundamental कड़ी ही Content Creation है।

Content Creation के बिना किसी भी माध्यम के ज़रिए Digital World या Internet पर अपनी पहचान बनाना लगभग Impossible है।

आज इस Blog में जानिए Content Creation in Hindi और जानेंगे Content Creation Benefits, Content Create कैसे करें और भी बहुत कुछ Content से Related. 

Table of Contents

Content क्या है?

Content क्या है?

आसान शब्दों में कहा जाए तो Content एक Structured Manner में लिखा गया एक Article है जो की Audience को Information, Knowledge, Entertainment आदि प्रदान करता है।

ये किसी भी माध्यम से Audience तक पहुंचाया जा सकता है। कोई भी Subject यदि हमें Information, Knowledge या Entertainment Provide करता है, वही Content कहलाया जाता है।

यानी की छोटे छोटे Text, Statement और Information को जोड़कर हम Content को बनाते हैं और उसे अलग अलग माध्यम से Audience को दिखाया और उन तक पहुंचाया जाता है।  

आइये अब जब जानते है Content Creation क्या है?

Content Creation क्या है?

Content Creation क्या है?

किसी भी Company या Business को यदि अपनी पहचान बनानी है तो उस Company को Marketing पर ध्यान देना होगा और जैसा कि हमने पहले आपको बताया कि किसी भी Marketing में सबसे Important Role होता है Content का।

अब चाहे आपको अपनी पहचान Real World में बनानी हो या Digital World में, आपको Content पर ध्यान देना ही होगा।

Marketing का मतलब ही है जो भी Product या Service को आप अपने Customers तक पहुँचाना चाहते हैं, उसके बारे में आपको अपने Customers को पहले बताना होगा या उसे Related कुछ Information देनी होगी। इन सब के लिए ज़रूरी है Content और Content Creation.  

अपने Business, Product, Brand, Target Audience या Customer को ध्यान में रखते हुए Content को चुनना व तैयार करना ही Content Creation कहलाता है।

इन सारी बातों को ध्यान में रखकर जब आप Content Create करेंगे तो ही आपको फायदा होगा क्योंकि आजकल Content तो हर जगह Available है। 

हर Content किसी एक Particular Category या Niche से Related होता है साथ ही Target Audience को भी ध्यान में रखते हुए Create किया जाता है। 

Content कितने प्रकार का होता है?

Content अनगिनत प्रकार के होते हैं। जो भी हम पढ़ रहे हैं या देख रहे हैं या सुन रहे हैं ये सब Content के अंतर्गत ही आता है। सब कुछ किसी न किसी प्रकार का Content ही है। पर फिर भी Content को कुछ Specific Types में बांटा गया है।

Content को मैंने मुख्यतः 4 Types में Divide किया है:

Content कितने प्रकार का होता है?

Textual Content

Textual Content को सामान्य भाषा में हम Written Content भी कह सकते हैं। इस प्रकार का Content Long Form Content होता है और इसमें भी कई सारे Sub Types हैं जैसे:

Article या Simple Blog

Content का सबसे पहला और Common Type Article या Blog है। आज से कई Decades पहले तक और आज भी सबसे ज़्यादा Popular Content अगर कोई है तो वो Article है।

Article Content का सबसे सरल प्रकार है। इसमें आपको सिर्फ Common Text मिल जाएगा जिससे आपको दुनिया की Information, Knowledge और News मिल जाएगी।

इसमें Images का भी Use होता है और Mainly, Article या Blog का मतलब होता है Simple और Audience Friendly Tone में लिखा गया Content Piece. 

आप Websites पर जो भी Content पढ़ते हैं वे Article या Blog के अंतर्गत ही आते हैं। यानी की ये Articles And Blogs ही, किसी भी Website के Main Content है जो कि Content Creation के अंतर्गत आते हैं। 

Internet पर सबसे Famous और Consume किया जाना वाला Content Articles ही है हालांकि अब इसकी जगह Video ने लेना शुरू कर दिया है।

मज़े बात तो यह है कि Google और कुछ नहीं बल्कि Content का ही भंडार है और इसमें अधिकतर जानकारी Written यानी Articles के Form में है।

Listicles

किसी भी बड़ी जानकारी को छोटे छोटे Points में समझना बहुत आसान होता है इसलिए Listicles Long Content Consumption को आसान शब्दों में समझने का सबसे अच्छा तरीका है।

Listicles का मतलब है List के Form में Content को Represent करना। कई सारे Facts Related Information को Audience तक पहुँचाने का सबसे अच्छा तरीका Listicles है।

इस प्रकार के Content में Lists में जो भी Data होता है वो बहुत ही Short होता है और आपको उस Point से Related Basic Information मिल जाती है।

E Books

Books Content Consumption का सबसे अच्छा तरीका है। लेकिन आज की Audience, Digital Content Consumption में ज्यादा Interest दिखाती है।

और बस Digital World के साथ साथ Digital Books का भी ज़माना आ गया है। इन्ही Digital Books को Ebooks कहते हैं।

जैसे Digital Mail को E-Mail कहते है ठीक उसी तरह Digital Books को E Books कहते हैं। E Books में आपको Normal Books का Digital Version मिलता है। यानी जो Text या Content आपको Normal Books में मिलेगा वही Same Content आप Mobile पर पढ़ सकते हैं E Books के ज़रिये।

इन E Books में आपको Text मिलेगा और इसके साथ ही Images भी मिलेंगी साथ ही साथ कुछ E Books ऐसी भी मिलेंगी जिसमें आपको संछिप्त रूप में यानी Short Form में Content मिलेगा। 

पूरी किताब को पढ़ना कई बार Boring हो जाता है इसलिए E Books आपको एक ऐसा Option देता है जिससे आप पूरी किताब को बिना पढ़े भी उसके अंदर के Content को समझ सकते है और एक Idea ले सकते है।

Video Content

इसमें कोई शक नही की बढ़ती Internet Speed और Cheap Data Rates की वजह से आज Information को Written Form में पढ़ने के बजाए लोग Video Form में देखना ज़्यादा पसंद कर रहे हैं।

इसलिए आज के युग में Video सबसे ज्यादा Consume किये जाने वाले Content का प्रकार बन गया है।

Video बहुत तेज़ी से Images और Simple Text की जगह ले रहा है या यह कहें कि लगभग ले चुका है।

अब Google जैसे Search Engines भी अपने Search Results में Text के साथ Video को दिखाने लगे हैं।

कई बार तो Google पर Search करने पर सबसे पहले Video ही सर्च Results में दिखाई देते हैं।

लेकिन इसमें भी एक राज़ की बात है। Video Content में भी कहीं ना कहीं या यूं कहें कि सबसे Important Role Text का होता है और इसी Text को कहते है Script।

किसी भी प्रकार का Video Content फिर चाहे वो Short Video हो या पूरी Film, वो Script के बिना बेकार है।

Video Content आज के युग में Knowledge, Information, Awareness और Entertainment पहुँचाने का सबसे अच्छा ज़रिया है।

Audio Content

Video के बाद सबसे पहले जो Content सबसे ज्यादा Popular हुआ वो है Audio.

Audio का सही मतलब है Content जो कि सिर्फ सुना जा सके।

Audio Content में न Images होती है और न कोई Visuals, इसमे सिर्फ आपको Audio के ज़रिये Content Deliver किया जाता है। 

अगर इसको और आसान भाषा में समझें तो जो भी Content लिखा जाता है उसी को Audio में Convert कर दिया जाता है। अब ये Audio किसी Individual की हो सकती है या फिर System Generated हो सकती है।

Audio Content का सबसे अच्छा Example है Podcasts। इसमें आपको Core Raw Content सुनने को मिलता है और आप बड़ी आसानी से Content को कहीं भी Consume कर सकते हैं।

Text To Speech भी Audio Content का दूसरा सबसे Popular और Common Example है। लम्बे और बड़े Text को पढ़ने में कई बार Time Consume होता है इसलिए Audio को बेहतर Option के रूप में देखा जा रहा है।

Infographics

Simple Images का ज़माना अब गया। अब बारी है Infographics की। Infographics आज के समय में सबसे जल्दी और आसान तरीके से Information प्रदान करने का ज़रिया है।

Infographics का Simple Meaning है Information Through Graphics और आसान शब्दों में समझें तो Infographics मतलब Text In Image. 

Information को लोगों तक पहुंचाने का सबसे आसान तरीका है Information को Creative Way में Optimize करके Images के साथ Publish करना जो की Infographics कहलाता है।

इसमें Images पर Text लिखा हुआ होता है और उसी Text या Information से Related Image होती है। इसमें आप Complex से Complex Data को बहुत आसान शब्दों में या Chart के ज़रिये Image पर लगाकर दिखा सकते हैं।

Social Media पर आपको Infographics के Infinite Examples मिल जाएंगे।
जो Post आप Social Media पर देखते है वो Infographics ही है यानी Text Written Images. 

Content Creation क्यों ज़रूरी है?

Content Creation क्यों ज़रूरी है?

चाहे Information Gain करनी हो या Entertainment, Content से बेहतर और कुछ नहीं। जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया है कि किसी भी प्रकार की Marketing के लिए Content बहुत ज़रूरी है।

Content Creation का पहला Importance यह है कि Marketing Content Creation पर ही Based है यानी Marketing कि Core Value Content पर ही आधारित है। इसका मतलब जितना अच्छा आप Content Create करेंगे उतनी ही अच्छी आपकी Marketing भी होगी। 

Content Creation का दूसरा Importance यह है कि यदि आपको लोगों के दिलों में अपनी जगह बनानी है तो एक बेहतर Content आपको यह हासिल करने में सबसे मददगार साबित होगा। Content के ज़रिये ही Audience के दिल में जगह बनाई जा सकती है।

चाहे Content किसी भी Type का क्यों न हो अगर आपको अपनी Target Audience को अपने Website, Product या Serices की तरफ खींचना है तो Content Creation बहुत ज़रूरी है।

और जब बात आती है Digital World की तब तो Content Creation और ज़रूरी हो जाता है।

Social Media से लेकर Websites तक हर जगह आपको Content डालना पड़ेगा तभी आप अपनी उपस्थिति Digital World या Internet पर दर्ज कर पाएंगे।

आसान शब्दों में समझें तो Internet पर अपना, अपने Business का या अपने किसी Product या Service का नाम बनाना है तो Content Creation ही वो ज़रिया है।

Content Creation के दम पर लोग पूरी दुनिया में मशहूर हो जाते है और छोटे मोटे Brands Global हो रहे हैं।

बड़ी से बड़ी Multinational Companies Content Creation के लिए अपनी एक अलग Team रखती हैं और यह Team छोटी नही होती बल्कि इसमें बहुत सारे Creative Individuals होते हैं।

Content कैसे Create करें?

Content Creation एक बहुत Important और Professional काम है इसलिए इसको करने का एक तरीका और एक Process होता है। यहाँ हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ Important Steps Involved In Content Creation. 

Content कैसे Create करें?

Set Your Goals

Content Creation का Main Objective ही Results देना है और आपके Goals को पूरा करना है। सबसे पहले आप अपने Goals को Set करें यानी यह तय करें कि आप Content से क्या Achieve करना चाहते हैं और आपकी क्या Expectations या Target है।

Set Your Goals

Set Your Audience

यह काफी Important Point है। आप एक साथ पूरी दुनिया तक नहीं पहुंच सकते। इसलिए सबसे पहले आपको यह तय करना होगा कि आप ये जो Content Create करने वाले हैं ये किसके लिए करने वाले हैं। इसका मतलब है आपकी Target Audience किस प्रकार की है?
For Example – Youth के लिए, सिर्फ Females के लिए, सिर्फ Children के लिए, Teens के लिए, Mature Persons के लिए आदि।

आपको यह बात ध्यान में रखनी होगी कि Content Creation तभी Successful होता है जब वह Target Audience को ध्यान में रखकर बनाया गया हो और तभी उस Field में Company को या Business को सफलता मिलती है और उसके Goals पूरे होते हैं।

Select Your Niche

Content Creation में Niche की बहुत Importance होती है जैसे Target Audience से हम Content को किसी Particular Audience के हिसाब से Create करते हैं ठीक वैसे ही हमें Content किसी Particular Niche के अनुसार Create करना होता है। 

Niche मतलब Category यानी हमारा Content किस Category में आता है।
उदाहरण के लिए Tech, Finance, Health, Relationships ये सब Niches हैं।
यदि हम किसी एक Niche पर कायम रहेंगे तभी हम अपने Content Creation Goals को सही से Achieve कर पाएंगे।

जैसी Niche होगी वैसा ही Content होगा तभी Audience Impress होगी और Engagement बढ़ेगी।
इसके साथ ही उस Particluar Niche में हमारी पकड़ भी मज़बूत होगी और Search Results में हमारे Content की Ranking भी अच्छी आएगी। 

Type Of Content

Niche Select करने के बाद आपको यह Select करना होगा आप किस प्रकार का Content अपनी Target Audience तक पहुँचाना चाहते हैं। जैसा कि हमने आपको बताया Content कई प्रकार के होते हैं। Content Creation Process में बिना Type Of Content Select किये आप आगे बढ़ नहीं सकते।

इसका कारण यह है कि अलग अलग प्रकार के Content के लिए आपको अलग अलग Strategy बनानी होगी साथ ही Content के Type के According ही आप Content Creator को Hire करेंगे।

Team Of Creative Content Creators

Content Creation को यदि सफल बनाना है तो आपके पास एक Experienced और Creative Team होनी चाहिए। इसलिए अपनी Niche के According Content Creators को Hire कीजिए जो उस Particular Niche में Content Create करने में Expert हों।

जितना ज़्यादा Unique और Creative Content होगा उतनी ज़्यादा Traffic आपके पास आएगी। इसके साथ ही Audience की Engagement भी बढ़ेगी जिससे आपकी Company या Business का नाम बढ़ेगा।

SEO

Search Engine Optimization यानी SEO की Importance को Content Creation में कोई नाकार नहीं सकता है। Content Creators की Team के अलावा SEO की एक अलग Team होती है। SEO का मतलब है आपके Content को Search Engine के According Optimize करना।

इसका Result यह होता है कि जब भी User कोई Keyword Search करेगा तो आपका Content Search Results के पहले Page पर या पहले स्थान पर आए। जब आपका Content पहले Page पर या पहले स्थान पर आएगा तो अपने आप आपके Content की और आपकी Popularity बढ़ेगी। जिससे की आपके Website पर ढेर सारा Organic Traffic आएगा और अपने आप आपकी Marketing हो जाएगी।

Distribution

अब जब आप अपने Content के साथ तैयार हैं और आपने उसे Search Engine के लिए Optimize भी कर लिया है तो आपको बस अब Distribution की तरफ ध्यान देना होगा।

Distribution मतलब आप कैसे और किन किन माध्यमों से Content को अपनी Audience तक पहुँचायेंगे। इसी में यह भी बात आती है कि कब कब आप अपना Content Audience को Provide कराएंगे। Distribution की भूमिका बहुत अहम होती है किसी भी Type के Content के लिए।

Content किन Platforms के लिए Create किया जा सकता है?

Content वैसे तो किसी भी Platform के लिए Create किया जा सकता है लेकिन आज हम आपको कुछ प्रमुख Platforms से अवगत कराएंगे जिनके लिए Content Create करना आपके लिए सबसे ज़्यादा Beneficial होगा।

Content किन Platforms के लिए Create किया जा सकता है?

Websites

जब बात Content की आती है तो सबसे पहला नाम Website ही आता है। जैसा कि हमने आपको पहले बताया Content Consumption का सबसे पुराना और Popular Platform रहा है Websites या Web. 

आज भी Website पर Content Consumption बहुत बड़ी मात्रा में होता है। इसमें मुख्य रूप से Articles या Blogs आते है। Articles और Blogs मतलब Plain Text And Images. 

Search Engines पर भी Website Content यानी Articles ही Search किये जाते हैं और पढ़े जाते हैं।

Video Platforms

अब यह तो आपको पता चल ही गया है कि Video आज के समय में सबसे Popular Way Of Content Consumption है इसलिए सभी लोग Website Content के साथ साथ Video Content पर भी Focus कर रहे हैं।

फिर चाहे वो Short Videos हो या Long Videos या OTT ही क्यों न हो। Video Content की धूम हर जगह है। 

ना जाने कितने लोग और छोटी से लेकर बड़ी बड़ी Companies इन्हीं Video Platfroms के लिए Content तैयार कर रही हैं।

Social Media

Social Media Platforms को हम कैसे भूल सकते है? 

आजकल Social Media से भला कौन वंचित है। Social Media Content के लिए तो लोग एक Special Team रखते हैं और इसकी वजह है Social Media की Popularity, Global Reach और Huge Active User Base. 

Social Media Content के ज़रिये आज लोग और Companies कहाँ से कहाँ तक पहुँच गए हैं। आम जनता को भी Social Media Content बहुत पसंद आता है। जैसा कि हमने आपको ऊपर ही बताया Infographics Content Social Media Platforms के लिए बनाया गया है।

Content Creation के लिए Best Tools

Content Creation के लिए Best Tools कुछ इस प्रकार हैं:

Content Creation के लिए Best Tools

Trending Keywords को जानने के लिए Google Trends एक बहुत ही अच्छा Tool है। इसके साथ यह आपको ये भी बताता है कि आज क्या खास और Trend में चल रहा है।

Giphy

यदि आपको Images से हटकर कुछ और Attention Grabbing Graphic डालना है तो Gifs से अच्छा और कुछ नहीं। यह टूल आपको नए नए Gifs Provide करता है। उससे भी अच्छी बात यह है कि इसकी Help से आप अपने Content के According Gifs Create भी कर सकते हैं।

अगर आपको Graphical Content बनाना है या किसी भी प्रकार का Visual Content बनाना है तो आपके लिए Canva एक अच्छा Option है। इसकी मदद से आप High Quality Ready To Print Visuals Create कर सकते हैं। Infographics Content Create करने के लिए यह एक अच्छा Tool है।

अब Content में Spelling Mistakes और Grammatical Errors होना तो बहुत Common बात है लेकिन इनको Search करके ठीक करना उतना ही मुश्किल। इसलिए Grammarly से Accha Editorial Tool शायद ही कोई है। इससे न सिर्फ आप बहुत आसानी से अपनी Mistakes ठीक कर सकते हैं बल्कि इसके Suggestions से आप अपने Content की Overall Quality को और Improve कर सकते हैं।

आप विभिन्न प्रकार के Analytics Tools और Management Tools भी Use कर सकते हैं।

Content Calendar & Planning

यदि आपको अपने Content Creation Strategy को Effective और Successful बनाना है तो इसके लिए Content Calendar & Planning बहुत ज़रूरी है। इसका मतलब यह है कि आपको यह पहले से ही Plan कर लेना है और एक Calendar बना लेना है कि आप कब कब अपना Content Public Domain में या अपनी Target Audience के लिए Post, Upload या Publish करेंगे।

आपको Date, या Day Select करना होगा ताकि जैसे ही आप अपना Content Publish करें आपकी Audience तुरंत उसको देख ले। Well Planned तरीके से और अपने Calendar के According Content को Publish करने से आपकी Audience को एक Accha Experience मिलेगा। 

Consistently जब आप Content Calendar को Follow करते रहेंगे, Audience का Trust आपके ऊपर बढ़ेगा और आप एक Brand के रूप में जानने जाएंगे।

Conclusion

अगर, आज के इस Digital World में आप Infinite Opportunities और Excellent Career Growth चाहते हैं, तो Content Creation आपके लिए एक बेहतर Career Option साबित हो सकता है।  

Content Creation का एक Benefit ये भी है कि Content Creation आप किसी भी Language में कर सकते हैं।
आप अपने Viewers & Customers के Demands के According Content Create कर सकते हैं।  

Content Creation उनके लिए एक Best Career Option भी है जो Research में Interest रखते हैं और साथ ही काफी Creative सोच भी रखते हैं। आप अपनी Creative सोच और Research Skill से Content Creation के Field में बुलंदियों तक पहुँच सकते है। 

Content Creation न सिर्फ पैसे कमाने का Best Career Option है बल्कि यह एक Honourable Job भी हैं, जहाँ आप अपने Culture, Tradition, History, Knowledge And Research को दुनिया के कोने कोने तक पहुँचाते हैं। 

Content Creation ना ही सिर्फ Digital Marketing में बल्कि Life के हर पहलू में अहम भूमिका निभाता है।

Content Creation एक ऐसा Skill है जो आपने एक बार सीख लिया तो आप हर Subject पर Content Create कर पाएंगे और पैसे कमाने के नए ज़रिये बना पाएंगे। 

इससे हमें ये भी पता चलता है कि किसी भी प्रकार की Marketing के लिए Content Creation कितना जरूरी है और फिर आज के Digital World की बात करें तो Content ही सब कुछ है।

आज ही Digital Marketing सीखना शुरू कीजिए मेरे Free Course SuNeeti से जहां हम देखते हैं हम अक्सर Fail क्यों हो जाते हैं? Digital Ecosystem क्या होता है? और Digital Marketing सीखकर इससे पैसे कैसे कमाए जाएँ। 

Share this post with your friends

16 Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *